यह तो आप जानते ही होंगे कि गूगल आप के लोकेशन को एक्सिस करता है साथी साथ वह आप के सर्च के डेटा को भी अपने पास इकट्ठा करता रहता है

वो इन्ही डेटा के आधार पर आपको ऐड्स दिखाता है हाल ही में गूगल के खिलाफ एक मुकदमा दायर किया गया है

गूगल पर आरोप है की गूगल यूजर्स को गुमराह कर रहा है कंपनी यूजर के लोकेशन की जानकारी कैसे और कब ट्रेक करती है और क्या जानकारी सेव की जाती है को लेकर गुमराह किया है

बताया जा रहा है कि हर्जाने के तौर पर गूगल $93 मिलीयन का भुगतान करेगा जो कि तकरीबन ₹7000 करोड के लगभग है

यह मुकदमा कैलिफोर्निया के अटॉर्नी जनरल रॉब बोंटा ने दायर किया था उनका कहना है कि कंपनी ने यूज़र को उनके लोकेशन डेटा पर ज्यादा कंट्रोल के लिए गलत इंप्रैशन दिया था

हालांकि गूगल ने इन सभी आरोपों को सिरे से नकार दिया है और वो इन सभी आरोपों को स्वीकार करने से इनकार कर रहा है

लेकिन कंपनी समझौता करने के लिए सहमत हो गई है और $93 मिलियन डॉलर के पेमेंट देने का वादा किया गया है