Tesla Car Price In India : भारत में इतना सस्ता Car क्यों बेच रहा Tesla, अब फोन की कीमत पर खरीदें Tesla Car

Tesla Car Price In India : भारतीय ऑटो सेक्टर का बाजार काफी तेजी से बढ़ रहा है इसलिए भारत के बढ़ते बाजार पर तकरीबन हर दिग्गज ब्रांड की नजर है इस रेस में अमेरिकन कंपनी Tesla बहुत जल्द बाजी मारने वाली है एलन मस्क की कंपनी Tesla भारत के साथ एक डील फाइनल करने के काफी नजदीक है और यदि सब कुछ सही रहा तो अगले एक साल के अंदर भारतीय सड़कों पर Tesla की कारें आपको दौड़ती नजर आएंगी 

Tesla भारत में कब तक आएगा?

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि भारत Tesla के साथ एक समझौते को अंतिम रूप देने की कगार पर है जिसके तहत Tesla को अगले साल से देश में अपनी इलेक्ट्रिक कार्स को आयात करने और 2 साल के अंदर एक फैक्ट्री लगाने की सहूलियत दी गई है यानी अगले 2 साल के अंदर Tesla भारत में फैक्ट्री लगाएगी माना जा रहा है कि जनवरी में वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट के दौरान इस बात की अधिकारिक घोषणा होने की उम्मीद है वैसे Tesla की भारतीय बाजारों में उतरने का इंतजार तो काफी लंबे समय से हो रहा है और बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे पर Tesla के CEO Elon Musk और PM Modi की मुलाकात ने इस चर्चा को और भी हवा दे दी थी जिसके बाद एलन मस्क ने भारत में Tesla की कारों को उतारने और प्लांट लगाने की बात कही थी हालांकि भारत में Tesla का प्लांट कहां लगेगा अभी यह निर्णय नहीं लिया गया है लेकिन गुजरात महाराष्ट्र और तमिलनाडु के राज्यों को उनके बुनियादी ढांचे को देखते हुए प्लान लगाने की योजना पर वहां विचार किया जा रहा है 

Tesla Car की कीमत क्या होगी?

एक रिपोर्ट के अनुसार Tesla भारत में एक नए प्लांट में शुरुआती तौर पर 2 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी साथ ही Tesla भारत से तकरीबन 15 अरब डॉलर तक के ऑटो पार्ट्स भी खरीद सकती है एलन मस्क ने जून में कहा था कि Tesla भारत में साल 2024 तक महत्त्वपूर्ण निवेश करने पर विचार कर रहा है हालांकि अब तक इस संबंध में कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं गई है हालांकि भारत में लगने वाले प्लांट को लेकर एक अनुमान जरूर जाहिर किया गया है जिसके अनुसार भारत में Tesla के प्लांट की सालाना उत्पादन क्षमता तकरीबन 5 लाख इलेक्ट्रिक वाहन की होगी और कंपनी अपनी इलेक्ट्रिक कारों की शुरुआती कीमत भारत में तकरीबन 20 लाख रुपया तक रख सकती है जैसा कि आप जानते ही हैं कि आज की तारीख में इंडियन मार्केट में इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड काफी तेजी से बढ़ रही है पिछले साल देश में बेचे गए कुल पैसेंजर वाहन में अकेले इलेक्ट्रिक वाहनों की हिस्सेदारी ही तकरीबन 1.3% थी जो कि इस साल और भी ज्यादा बढ़ने की उम्मीद है

Leave a Comment