Hindi News : India से Russia ने लगाई गुहार, Rupee को लेकर मांगी ये मदद, भारत सरकार ने तुरंत लिए यह फैसला

Hindi News : भारत और रूस पक्के दोस्त हैं और दोनों देशों ने कई बार एक दूसरे के लिए वो किया जिसे देखकर इनसे चिड़ने वाले देशों की नींद उड़ जाती है इस बार भी रूस से व्यापार करके भारत ने अमेरिका चीन की नींद उड़ा दी लेकिन अब खबर चौकाने वाली सामने आ रही दरअसल भारत के साथ आर्थिक संबंधों को मजबूत करने के उद्देश्य से भारत में रूस के राजदूत ने कहा कि भुगतान की समस्याएं व्यापार में बाधा डालती है और इस बाधा को दूर करने के लिए बैंकों और निर्यातकों को अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता है भारत में रूस के राजदूत डेनिस अली पोव (H.E. Mr Denis Alipov) ने कहा वोस्ट्रो ट्रेड सेटलमेंट मैकेनिज्म यानी रुपया भुगतान ठीक से काम नहीं कर रहा | 

क्या कहा भारत में रूस के राजदूत ने?

स्थितियों का पता लगाने के लिए कंपनियों और बैंकों को कुछ अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता है MSME द्वारा आयोजित इंटरएक्टिव सत्र के मौके पर एक सवाल के जवाब में उन्होंने इस मुद्दे को हल करने के लिए भारतीय बैंकों और निर्यातकों से अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता पर जोर दिया हालांकि उन्होंने स्वीकार किया कि भुगतान पद्धति को हल करने के लिए बहुत अधिक सुधार की आवश्यकता होगी Denis Alipov ने आगे कहा कि बैंक सहयोग करने को तैयार है घातक लंबी दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल रक्षा प्रणाली s400 के रक्षा सौदे पर Denis Alipov ने देरी को स्वीकार किया लेकिन कहा कि आपूर्ति जारी है 

रुपए में व्यापार समझौता कैसे काम करेगा?

भारत का रुपया व्यापार सेटलमेंट मैकेनिज्म अंतरराष्ट्रीय लेनदेन के लिए डॉलर और अन्य बड़ी मुद्राओं के बजाय रुपयों का उपयोग करने का एक तरीका है आयात और निर्यात के लिए देशों को विदेशी मुद्रा में भुगतान करना पड़ता है लेकिन पिछले कुछ महीनों में डॉलर के मजबूत होने से दुनिया भर के कई देशों के लिए आयात महंगा हो रहा है रुपए में व्यापार के लिए वोस्ट्रो खाता की मदद से कोई भी देश भारत के साथ हुए आयात या निर्यात का मूल्यांकन चुकाने के लिए रुपए का इस्तेमाल कर सकता है 

वोस्ट्रो खाता कैसे काम करता है?

एक विदेशी कॉरेस्पोंडेंस बैंक को एक एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए वोस्ट्रो अकाउंट बनाया जाता है इन सर्विसेस में उन देशों में ग्राहकों के लिए वायर ट्रांसफर विड्रॉल और डिपॉजिट करना शामिल है जहां घरेलू बैंक की फिजिकल रूप से उम्मीद नहीं है विदेशी करेस्पॉन्ड बैंक घरेलू बैंक की ओर से ट्रेजरी सर्विस भी कर सकता है और अंतरराष्ट्रीय व्यापार में तेजी ला सकता है करेस्पॉन्ड बैंक घरेलू बैंक से वोस्ट्रो अकाउंट से जुड़ी सर्विस के लिए चार्ज भी लेता है खैर भारत शुरू से रूस का सहयोगी देश रहा है दोनों एक अच्छे मित्र देश है और दोनों ही देश एक दूसरे को समय-समय पर सहयोग करते आ रहे हैं देश और दुनिया की हर खबर के लिए आप हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर लीजिए JOIN NOW

Leave a Comment