Divorce news : अरबपति कारोबारी ने पत्नी को दिया तलाक और अब देने होंगे 8715 करोड रुपए

Divorce news : अरबपति कारोबारी गौतम सिंघानिया और उनकी पत्नी नवाज मोदी के बीच चल रहे खराब रिश्ते पिछले हफ्ते खुलकर सामने आगए और मीडिया में सुर्खियां बन गई अब इस मामले में एक बहुत बड़ी खबर आ रही है नवाज मोदी सिंघानिया ने गौतम सिंघानिया से अलग होने के एवज में गौतम सिंघानिया से भारी भरकम रकम की मांग कर डाली है मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नवाज मोदी ने गौतम सिंघानिया से 1.4 अरब डॉलर की नेटवर्थ का तीन चौथाई हिस्सा यानी 75 फीस हिस्सा मांग लिया है अब इसे रुपए में देखते हैं तो गौतम सिंघानिया की नेटवर्थ करीब 11620 करोड़ रुपए बैठती है नवाज ने फैमिली सेटलमेंट के तौर पर उनसे 75 फी हिस्सा मांगा है यानी अगर इस पर गौतम सहमत होते हैं तो उन्हें 8715 करोड़ रपए नवाज को देने पड़ेंगे और असल में नवाज ने ये संपत्ति अपनी और अपनी दोनों बेटियां निहारिका और निशा के लिए मांगी है 

गौतम और नवाज के बीच रिश्ते में लंबे समय से दरार?

गौतम और नवाज दोनों ही लंबे वक्त से अलग रह रहे हैं और इसके बाद यह खबर आई है तो खबर के मुताबिक गौतम सिंघानिया मोटे तौर पर इस डिमांड पर राजी हो गए हैं लेकिन उन्होंने सुझाव यह दिया है कि इस संपत्ति के लिए एक फैमिली ट्रस्ट बना दिया जाए गौतम के सुझाव के मुताबिक फैमिली की वेल्थ और एसेट्स इसी ट्रस्ट में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे और वे इसमें इकलौती मैनेजिंग ट्रस्टी होंगे उनकी मौत के बाद परिवार के सदस्यों के पास इस संपत्ति पर पूरा हक होगा 

नवाज गौतम के सुझाव से राजी नहीं?

बताया जा रहा है कि गौतम के सुझाव से नवाज कतई राजी नहीं है आपको बता दे की गौतम और उनके परिवार से संबंधित पहले ही कई ट्रस्ट चल रहे हैं इनमें जेके ट्रस्ट, श्रीमती सुनीति देवी सिंघानिया हॉस्पिटल ट्रस्ट जिसकी रेमंड लिमिटेड में 1.04 फीस हिस्सेदारी है गौतम सिंघानिया इसके चेयरमैन और मैनेजिंग ट्रस्टी हैं जबकि नवाज सिंघानिया इसकी ट्रस्टी हैं खबर के मुताबिक खेतान एंड कंपनी की सीनियर पार्टनर हाई ग्रीव खेतान को गौतम सिंघानिया ने इस पूरे मामले में अपना लीगल एडवाइजर नियुक्त किया है जबकि मुंबई की लॉ फर्म रश्म कांत को नवाज ने अपने साथ जोड़ा है 

मिडिलमैन की भूमिका निभा रहे हैं अक्षय?

खबर के मुताबिक अमरचंद मंगल दास एंड कंपनी के मैनेजिंग पार्टनर अक्षय चूड़ासामा दोनों पक्षों के करीबी हैं और वे इस मामले को आपसी सहमति से सुलझाने के लिए मिडल मैन की भूमिका निभा रहे हैं 32 साल तक लंबे चल रहे इस रिश्ते के बाद गौतम सिंघानिया ने बीते सोमवार इस रिश्ते से अलग होने का ऐलान कर दिया था नवाज सिंघानिया ‘बॉडी आर्ट’ नाम से फिटनेस सेंटर्स चलाती हैं और इसके अलावा उन्हें साउथ मुंबई का पहला एरोबिक्स और वेलनेस एक्सपर्ट भी माना जाता है वे रेमन में डायरेक्टर भी है 

रेमंड की मार्केट वैल्यू क्या है?

शुक्रवार के मार्केट प्राइस के हिसाब से रेमंड की मार्केट वैल्यू करीब 875 करोड़ है 2022 में कंपनी की सालाना कंसोलिडेटेड इनकम 8214 करोड़ रही जबकि इसका नेट प्रॉफिट 536. 9 करोड़ रपए रहा और गौतम सिंघानिया रेमंड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं जैसा कि हमने पहले भी बताया आपको उनकी अगवाई में प्रमोटर होल्डिंग 49.1 फीसद है प्रमोटरों में सिंघनिया फैमिली मेंबर्स ट्रस्टस और प्रमोटर कंपनियां शामिल है अपनी निजी कैपेसिटी में नवाज सिंघानिया के पास रेमंड के महज 2500 शेयर्स है गौतम सिंघानिया 2000 में रेमंड्स के चेयरमैन बने इसके बाद उनका अपने पिता विजय पत सिंघानिया से लंबा विवाद चला इस पूरे विवाद में कई कड़वे मोड़ आए खैर अब यह देखना होगा कि गौतम सिंघानिया और नवाज के बीच का विवाद किस मोड़ पर पहुंचता है नवाज की सेटलमेंट के तौर पर तीन चौथाई संपत्ति की मांग पर क्या गौतम राजी होते हैं और क्या यह पूरा पारिवारिक विवाद आपसी सहमति से हल हो पाता है या नहीं | देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए आप हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को जरूर ज्वाइन कर लीजिए JOIN NOW

 

Leave a Comment