Amway Scam : पैसा डबल करने का लालच देकर कंपनी ने ग्राहकों के 4000 करोड रुपए लूट लिया और अब ED की बड़ी कार्रवाई

Amway Scam : Amway यह नाम आपने जरूर सुना होगा, हो सकता है आपने इसके प्रोडक्ट सेल भी करवाए हो और इसके प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी किया हो, Amway एक नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी है इस कंपनी की जालसाजी का कारनामा और काला सच दुनिया के सामने आ चुका है जिस पर ईडी ने अब शिकंजा कस दिया है आइए मामले को थोड़ा विस्तार से समझते हैं 

Amway India क्या करती है और ED ने क्या आरोप लगाए हैं? 

यह कंपनी लोगों को लाखों करोड़ों रुपए के मालिक बनाने का सपना बेचने का काम करती है लेकिन अब इस कंपनी पर ED का शिकंजा कसता चला जा रहा है दरअसल Amway India पर 4000 करोड़ रपए की मनी लरिंग का आरोप है इस मामले में ED ने हैदराबाद की स्पेशल कोर्ट में शिकायत दर्ज की है Amway India पर धन शोधन निवारण अधिनियम 2002 के तहत अभियोजन शिकायत दर्ज कराई गई है ED की जांच में कंपनी द्वारा बड़ी Scam  उजागर हुई है इसमें पाया गया है कि इस मनी सर्कुलेशन स्कीम के जरिए Amway ने कुल 50.2 करोड़ कमाए | इसके अलावा कंपनी की ओर से इस कमाई में से एक बड़ा हिस्सा विदेशों में भेज दिया गया ED के मुताबिक कंपनी ने 2859 करोड़ की राशि को विदेश में बैठे डायरेक्टर्स के खाते में ट्रांसफर कर दिया. ED ने इस Scam के मामले में कंपनी की 77.77 करोड़ रुपए की चल और अचल संपत्ति को भी जोड़ा है 

Amway का कारोबार आखिर काम कैसे करता है?

Amway का कारोबार मल्टीलेवल मार्केटिंग पर आधारित है इस तरह के काम को पिरामिड सेलिंग के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इसमें ऊपर केंद्र में बैठे व्यक्ति सबसे ज्यादा फायदा कमाते हैं और नीचे की ओर फैलते पिरामिड में अपने नीचे बहुत से लोगों को जोड़ते चले जाते हैं केंद्र में बैठे शख्स के नीचे जुड़े लोग भी ज्यादा फायदा कमाने के लिए अपने नीचे और लोगों को जोड़ने की कोशिश करते हैं जितने ज्यादा लोग जुड़ते हैं फायदा उतना ही बढ़ता जाता है जहां तक बात Amway की है तो Amway की मल्टी लेवल मार्केटिंग में बिजनेस से जुड़ने वाले लोगों को उपभोक्ता बनाया जाता है Amway लोगों को डिस्ट्रीब्यूटर्स यानी इंडिपेंडेंट बिजनेस ओनर्स यानी IBO बनाती है जो मल्टीलेवल मार्केट के तहत संभावित ग्राहकों को कंपनी के उत्पादों की मार्केटिंग करते हैं ये इंडिपेंडेंट बिजनेस ओनर्स नए लोगों को भी इंडिपेंडेंट बिजनेस ओनर्स बनाते हैं खुद के द्वारा की गई उत्पादों की बिक्री के अलावा इन IBO को अपने द्वारा चेन सिस्टम में जोड़े गए IBO की बिक्री पर भी बोनस दिया जाता है 

Amway India के ग्रंथ में कई गुना बढ़ोतरी हुई? 

आमतौर पर Amway India जैसे नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों से जुड़े लोग अपने घर, परिवार और दोस्तों को ही सदस्य बनाते हैं और शायद ऐसा भी हुआ हो किआप भी कभी Amway में किसी IBO से टकराए हो आज की तारीख में भारत में एक्टिव डायरेक्ट सेलर्स की गिनती काफी बढ़ चुकी है इसमें इंडियन डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन के अनुसार Amway के भारत में एक्टिव डायरेक्ट सेलर्स की संख्या 2021-22 में 79 लाख से 6% बढ़कर लगभग 84 लाख हो गई है जो 2019-20 में 6.3% की दर से बढ़ रही थी 

अनुमान है कि इस उद्योग की सालाना बिक्री 19000 करोड़ की पार की है जो साल 2021-22 के लिए साल दर साल 5.3% की दर से बढ़ रही है इस मामले की जांच जारी है और अब तक कई बड़े खुलासे भी किए जा चुके हैं जैसे Amway India पर आरोप है कि कंपनी अपने सामानों की बिक्री की आड़ में एक अवैध मनी सर्कुलेशन स्कीम को बढ़ावा दे रही है Amway India आम जनता को अपने साथ जोड़कर उन्हें नए सदस्यों को जोड़ने के लिए बहुत ज्यादा कमीशन या फिर इंसेंटिव देने का वादा करती है और यह दावा करके वे सबके साथ धोखा कर रही है अंत में आपको थोड़ा सा Amway कंपनी का इतिहास बता देते हैं मल्टीलेवल मार्केटिंग या फिर पिरामिड सेलिंग के फार्मूले पर काम करने वाली अमेरिकी कंपनी Amway India ने 1998 में भारत में कदम रखा था Amway India एंटरप्राइजेस प्राइवेट लिमिटेड के नाम से भारत में आईस कंपनी के नाम में जुड़े है कुल मिलाकर अमेरिका की एक कंपनी अपने पैर अच्छे से जमा चुकी थी भारत में अब इस कंपनी पर ED का शिकंजा कसता जा रहा है कुल मिलाकर आप लोगों के लिए सलाह यही है कि इस तरह के किसी भी कंपनी के झांसे में ना आए और इस तरह के हर एक खबर को जानने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर लीजिए JOIN NOW

Leave a Comment